23 साल की दुल्हन और 13 साल का दूल्हा,साडी की पहली रात ही हुआ कुछ ऐसा की जानकार आप चौक जायेंगे


23 साल की दुल्हन और 13 साल का दूल्हा



23 साल की दुल्हन और 13 साल का दूल्हा,सुनने में ये बात अजीब लगेगी लेकिन ये सच है हमारे देश में बाल विवाह कोई नयी बात नहीं है लेकिन यहाँ पर कुछ ऐसा हुआ जो किसी ने सोचा नहीं था और न ही कोई अपने बच्चे के साथ करना चाहेगा .वैसे तो जब भी शादी तय की जाती है तो अधिकतर दुल्हन की उम्र दुल्हे की उम्र से कम ही रहती है।हालांकि, कुछ शादी के रिश्ते ऐसे भी होते हैं जिसमें लड़की की उम्र लड़के की उम्र से ज्यादा होती है, वह भी ज्यादा से ज्यादा एक दो या तीन, लेकिन एक मां ने अपने 13 साल के नाबालिग लड़के की शादी एक 23 साल की लड़की से कर दी है। यह शादी गांव वालों की मौजूदगी में बैंड बाजे बारात के साथ हुई।




हम आपको बता दे की आंध्र प्रदेश के कुरनूल के उप्पाराहल गांव में बीते अप्रैल माह में एक 13 साल के लड़के की शादी 23 साल की लड़की से कर दी गई। ये शादी गांव वालों की मौजूदगी में बैंड बाजे बारात के साथ हुई। वहीं शादी की पहली रात पर ही पुलिसवालों ने उनके घर पर छापा मार दिया। इससे पहले पुलिस उन्हें पकड़ती वो सभी लोग घर और कार्यक्रम स्थल छोड़कर जा चुके थे।बताया जाता है कि यह शादी केवल इसलिए हुई क्योंकि दूल्हे की मां काफी बीमार रहती है और वह अपने शराबी पति से तंग आ गई थी। इसके बाद उसने अपने 13 साल के लड़के की देखभाल के लिए किसी परिपक्व की तलाश की।




बताया जा रहा है कि बेंगलुरु के पास दूल्हा-दुल्हन दोनों पक्षों के माता-पिता की मुलाक़ात हुई। इस मुलाक़ात के दौरान मां ने अपने नाबालिग बेटे की शादी तय कर दी। जब इस शादी की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल होना शुरू हुई तो मामले की जांच के लिए कुछ अधिकारी गांव में गये, लेकिन वहां उनके हाथ सिर्फ निराशा लगी। क्योंकि गांव में दूल्हा-दुल्हन और उनके परिवार वाले मौजूद नहीं थे।



आज हमारे देश में बाल विवाह जैसी प्रथा को ख़त्म कर दिया गया है लेक्लिन फिर भी कही न कही ये देखने को मिल जाता है की कुछ लोग अपने बेटे या बेटियों का विवाह बचपन में ही कर देते है बिना उनकी मर्जी जाने और ये ज्यादेतर गाओं में ही देखने को मिलता है जोकि बेहद बात है , पर हमारी भारत सरकार बाल विवाह के खिलाफ है अगर कोई माँ या बाप ऐसा काम करता है तो उन्हें अब जेल की हवा कहानी पड़ेगी और साथ ही साथ जुर्माना भी देना पड़ेगा ,आपलोग से विनती है की बेतिया बोझ नहीं होती है उन्हें पढ़ाये लिखाये,इस काबिल बांये की खुस लड़के वाले आपके बेटियों के लिए रिश्ता लेकर आये ,आज कितने है गाँव के लोग जागरूक हो चुके है वे अपने बेटियों को पढ़ाते - लीखाते है जिसका साबुत आपको पुलिस फाॅर्स में देखने को मिल जायेगा, किसी भी जिले के पुलिस फाॅर्स में आपको जो लड़किया देखने को मिलेगी वो ज्यादेतर गाँव से होती है ...




आज हमारे देश में ही नहीं बल्कि बहुत ही देशो में बाल विवाह किया जाता है जो की बेहद गलत है आपको ये जानकार हैरानी होगी की हमारे देश से ज्यादा बाल विवाह बांग्लादेश में होता हैं इतना ही नहीं वहाँ के लोग अपनी बेटियों की शादी उनसे दुगने मर्द से भी कर देते हैं क्यूंकि वे लोग के पास अचे पैसे होते हैं लेकिन क्या पैसे से एक लड़की की ख़ुशी खरीदी जा सकती है ।

पर हमारे लिए ये ख़ुशी की बात है की हमारे देश में अब ये ना के बराबर रह गया है ।




हमारे देश की सरकार बाल विवाह के बेहद खिलाफ है इतना ही नहीं अगर आप अपने बेटे या बेटी की बाक व्यवाह करवाते है और ऐसा करते  पकड़े जाते हैं तो जुर्माना के साथ साथ आपको जेल भी हो सकती है । हम आपको बता दे की हमारे देश के कानून के अनुसार लड़की की उम्र 18 साल और लड़के की उम्र 21 साल होनी चाहिए उस से कम नहीं । आज हमारा देश तरक्की की कदम चुम रहा है , आज हमारे देश के बेटियों को पढ़ने के लिए यहाँ की सरकार ने कितनी ही नयी नयी योजना का निर्माण किया है उसके साथ साथ बेटी बचाओ और बेटी पढ़ाओ जैसो आंदोलन भी चला रही है ।

Post a Comment

0 Comments